Suprabhat – Bhalai Karte Rahiye Pani Ki Tarah

ईश्वर के न्याय की चक्की धीमी जरूर चलती है
पर पीसती बहुत बारीक है!
भलाई करते रहिए बहते पानी की तरह,
बुराई खुद ही किनारे लग जाएगी कचरे की तरह…
सुप्रभात 🙂

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums
Category: Suprabhat Suvichar

Contributor:

Leave a comment