Festival Shayari SMS Collection for Facebook, Whatsapp, Pinterest, Instagram & Other Social Sites.

Happy Rose Day Shayari

रोज डे शायरी

गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

चेहरा आपका खिला रहे गुलाब की तरह
नाम आपका रोशन रहे आफताब की तरह
ग़म में भी आप हँसते रहे फूलों की तरह
अगर हम इस दुनिया में न रहें आज की तरह
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

सालों बाद न जाने क्या समां होगा
हम सब दोस्तों में से न जाने कौन कहाँ होगा
फिर मिलना हुआ तो मिलेंगे ख्बाबों में
जैसे सूखे गुलाब मिलते हैं किताबों में
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

प्यार के समुन्दर में सब डूबना चाहते हैं
प्यार में कुछ खोते हैं तो कुछ पाते हैं
प्यार तो एक गुलाब है जिसे सब तोडना चाहते हैं
पर हम तो इस गुलाब को चूमना चाहते हैं
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

फूल खिलते रहे ज़िन्दगी की राह में
हंसी चमकती रहे आपकी निगाह में
कदम कदम पर मिले ख़ुशी की बहार आपको
देल देता है येही दुआ बार बार आपको
हैप्पी रोज डे, रोज डे मुबारक हो

फूल बनकर हम महकना जानते है
मुस्कुरा के हम ग़म भूलना जानते हैं
लोग खुश होते हैं हमसे क्योंकि
बिना मिले ही हम रिश्ते निभाना जानते हैं
रोज डे की शुभकामनाएं

मेरा हर ख्वाब आज हकीकत बन जाये
जो हो बस तुम्हारे साथ ऐसी ज़िन्दगी बन जाये
हम लाये लाखो में एक गुलाब तुम्हारे लिए
और ये गुलाब मोहब्बत की शुरुआत बन जाये
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

आपके होठो पर सदा खिलता गुलाब रहे
खुदा ना करे आप कभी उदास रहे
हम आपके पास चाहे रहे ना रहे
आप जिन्हें चाहे वोह सदा आपके पास रहे
रोज डे की हार्दिक शुभकामनाएं

ए-हसीन मेरा गुलाब कबूल कर,
हम तुमसे बेइन्तहा इश्क़ करते हैं,
अब नहीं इस ज़माने की परवाह हमको,
हम अपने इश्क़ का इज़हार करते हैं,
तुम नादानी समझो या शैतानी हमारी,
हम हर घडी तेरा इंतजार करते हैं |
हैप्पी रोज डे

पत्ती , पत्ती गुलाब बन जाती
हर कली मेरा ख्वाब बन जाती
अगर आप डाल देती अपनी महकदा नज़रे इन पर
तो सुबह की ओस भी शराब बन जाती
Happy Rose Day

सारी उम्र में एक पल भी आराम का न था
वो जो दिल मिला किसी काम का न था
कलियाँ खिल रही थी हर गुलाब था ताज़ा
मगर कोई भी गुलाब मेरे नाम का न था
Happy Rose Day

मेरी दीवानगी की कोई हद नहीं
तेरी सूरत के सिवा मुझे कुछ याद नहीं
मैं गुलाब हूँ तेरे गुलशन का
तेरे सिवाए मुझ पर किसी का हक़ नहीं
हैप्पी रोज डे

गिन गिन के लाये गुलाब हम प्यारे
जैसे तारों में कुछ खूबसूरत तारे
तुम इन्हें रखना संभाल के सनम
यही भरे है प्यार से हमारे
हैप्पी रोज डे

एक दिल मेरे दिल को ज़ख़्म दे गया
ज़िन्दगी भर जीने की कसम दे गया
लाखों फूलो में से एक गुलाब चुना हमने
जो काँटों से भी गहरी चुभन दे गया
Happy Rose Day

हर फूल आपको नए अरमान दे,
हर सुबह आपको एक सलाम दे,
हमारी ये दुआ हैं तहे-दिल से,
अगर आपका एक आंसू भी निकले,
तो खुदा आपको उससे दुगनी खुशी दे
हैप्पी रोज डे

मेरा हर ख्वाब आज हकीकत बन जाये,
जो हो बस तुम्हारे साथ ऐसी जिन्दगी बन जाये,
हम लाये लाखो में एक गुलाब तुम्हारे लिए,
और ये गुलाब मोहब्बत की शुरुआत बन जाये
I Love You & Happy Rose Day

तेरी आहट से ही मेरे चेहरे पर मुस्कान आ जाती हैं,
तेरे होने का अहसास मेरी साँसे बयाँ कर जाती हैं,
ये सुन्दर गुलाब तेरी ही यादों का हिस्सा हैं
जिन्हें देख फिर से वो खुशियाँ जवां हो जाती हैं|
हैप्पी रोज डे जानेमन

गुलाब की खूबसूरती भी फिकी सी लगती हैं
जब तेरे चेहरे पर मुस्कान खिल उठती हैं
यूँही मुस्कुराते रहना मेरे प्यार तू
तेरी खुशियों से मेरी साँसे जी उठती हैं
गुलाब का दिन मुबारक हो

तुम्हारी अदा का क्या जवाब दूँ, क्या प्यारा सा उपहार दूँ,
कोई तुमसे खुबसूरत गुलाब होता तो लाते, जो खुद गुलाब है उसको क्या गुलाब दूँ.

जिसको पा ना सके वो जनाब हो आप,
मेरी ज़िन्दगी का पहला खवाब हो आप,
लोग चाहे कुछ भी कहे आपको,
लेकिन मेरे लिए सुन्दर सा गुलाब हो आप
रोज डे मुबारक हो

प्यार के समंदर में सब डूबना चाहते हैं,
प्यार में कुछ खोते हैं तो कुछ पते हैं,
प्यार तो एक गुलाब है जिसे सब तोडना चाहते है
हम तो इस गुलाब को चूमना चाहते हैं.
हैप्पी रोज डे मेरे गुलाब

बीते साल के बाद फिर से रोज डे आया हैं
मेरी आँखों में सिर्फ तेरा ही सुरूर छाया हैं
जरा तुम आकर तोह देखो एक बार
तुम्हारे इंतजार में पुरे घर को सजाया हैं|
Wish you a very Happy Rose Day

Contributor:

Republic Day Shayari in Hindi

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी की शायरी

अलग है भाषा, धर्म जात,
और प्रांत, भेष, परिवेश,
पर हम सब का एक ही गौरव है,
राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ

याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम,
यह बलिदान तुम्हारा है,
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है

देश भक्तो की बलिदान से
स्वतंत्रा हुए है हम
कोई पूछे कोन हो
तो गर्व से कहेंगे
भारतीय है हम

कुछ नशा तिरंगे की आन है
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है
हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है

ना जियो धर्म के नाम पर,
ना मरो धर्म के नाम पर,
इंसानियत ही है धर्म वतन का बस जियों वतन के नाम पर

ना पूछो ज़माने से कि क्या हमारी कहानी है
हमारी पहचान तो बस इतनी है कि हम सब हिन्दुस्तानी हैं

भूख, गरीबी, लाचारी को, इस धरती से आज मिटायें,
भारत के भारतवासी को, उसके सब अधिकार दिलायें
आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें

चलो फिर से खुद को जगाते हैं
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं
याद करें उन शूरवीरों को क़ुरबानी
जिनके कारण हम इस लोकतंत्र का आनंद उठाते हैं

वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये,
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये,
दिल एक है एक है जान हमारी,
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है

नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना,
ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना,
जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना,
खुदा के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना,
हम लाएं है तूफ़ान से कश्ती निकाल के,
इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के

भारत के गणतंत्र का, सारे जग में मान,
दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान,
सब धर्मो को देकर मान रचा गया इतिहास का,
इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास

वतन हमारा ऐसे ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारा एक है एक है हमारी जान.
हिन्दुस्तान हमारा है हम है इसकी शान

आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे
जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे
क्योंकि भारत हमारा देश है
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे

ये नफरत बुरी है ना पालो इसे
दिलों में नफरत है निकालो इसे
ना तेरा, ना मेरा, ना इसका, ना उसका
ये सब का वतन है बचालो इसे

इंडियन होने पर करीए गर्व,
मिलके मनाएं लोकतंत्र का पर्व,
देश के दुश्मनों को मिलके हराओ,
हर घर पर तिरंगा लहराओ

संस्कार, संस्कृति और शान मिले,
ऐसे हिन्दू, मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले,
रहे हम सब ऐसे मिल-झुल कर,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान मिले

==–..__..-=-._.
!!==–..__..-=-._;
!!==–..@..-=-._;
!!==–..__..-=-._;
!!
!!
!!

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!
जय हिन्द, जय भारत

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये

इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है,
झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में,
भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में

ना सरकार मेरी है !
ना रौब मेरा है !
ना बड़ा सा नाम मेरा है !
मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व है,
मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है

सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी,
यह गुलिस्ताँ हमारा

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें
शहीदों के दिलो में थी जो वो ज्वाला याद कर लें
जिसमें बहकर आजादी पहुची थी किनारे पे
देशभक्ति के खून की वो धारा याद कर लें

बलिदानों का सपना सच हुआ
देश तभी आजाद हुआ
आज सलाम करें उन वीरों को
जिनकी शहादत से ये गणतन्त्र हुआ

मैं तो सोया था गहरी नींद मैं
सरहद पर था जवान जगा रात सारी,
ये सोच कर नींद मेरी उड़ गयी
जवान कर रहा रक्षा हमारी

तीन रंग का है तिरंगा
ये ही मेरी पहचान है
शान देश की, आन देश की
हम तो इसकी ही सन्तान हैं

बता दो आज इन हवाओं को
जला कर रखो इन चिरागों को
लहू देकर जो ली आजादी
टूटने ना देना ऐसे प्रेम के धागों को

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे
देश के लिए एक-दो तारीख नही
भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे

लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमां पर
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर

वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए
वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए
रखते है हम वो हौसले भी जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए

26 जनवरी गणतंत्र दिवस की शायरी
मै भारतवर्ष का हरदम अमित सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ

तीन रंग का नही ये वस्त्र, ये ध्वज देश की शान हैं,
हर भारतीय के दिलो का स्वाभिमान हैं,
तीन रंगों में रंगा हुआ ये अपना हिन्दुस्तान हैं
जय हिन्द!

खुशनसीब हैं वो जो वतन पर मिट जाते हैं,
मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं,
दिल से तुमको नमन हैं करते
ये आजाद वतन जो दिलाया है

आओ झुक कर करें सलाम उन्हें
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है
कितने खुशनसीब हैं वो लोग
जिनका खून वतन के काम आता हैं

तीन रंगों का बना तिरंगा निर्मल गंगा की धरा,
सबकी आँखो का तारा ऊंचे ऊंचे परबत
नील गगन है न्यारा
दुनिया में सबसे है प्यारा भारत देश हमारा

देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम
कोई पूछे कौन हो,
तो गर्व से कहेंगे,
भारतीय हैं हम.
गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

Contributor:

Happy New Year Shayari

नए साल की शायरी

नया साल, नयी उम्मीदें,
नए विचार और नयी शुरुवात
भगवन करें आपकी हर दुआ हकीकत बन जाये!
― नया साल आपको मुबारक हो!

आपके सारे गम खुशियों में तोल दूँ,
अपने सारे राज़ आपके सामने खोल दूँ
कोई मुझसे पहले न बोल दे,
इसलिए सोचा क्यों न आज ही,
आपको हैप्पी न्यू इयर बोल दूँ!..!!!!

गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है,
सितारो ने आसमान से सलाम भेजा है,
मुबारक हो आपको नया साल,
हम ने ये ADVANCE में ये पैगाम भेजा है!!
नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं ।

फूल खिलेंगे गुलशन में,
तब खूबसूरती नज़र आएगी
बीते साल की खट्टी
मीठी यादें ही बस संग रह जाएँगी
आओ जश्न मनाते हैं,
नए साल का साथ मिलकर
नए साल की पहली सुबह,
खुशियां जो अनगिनत लाएगी

बीते साल को विदा इस कदर करते हैं
जो नहीं किया वो भी कर गुज़रते हैं
नए साल के आने की खुशियां तो सब मनाते हैं
हम इस बार बीते साल की यादों का जश्न मनाते हैं

इस साल भी बनी रहे दोस्ती हमारी
आपस में प्यार की बढती रहे खुमारी
एक दूजे के सुख-दुःख में रहें साथ
कभी ना छुटे ए दोस्त तेरा और मेरा साथ

भुलाकर सारे दुःख भरे पल
दिल में बसा लो आने वाला कल
मुस्कुराओ खुल कर चाहे जो भी हो पल
क्योंकि आ रहा है नया साल लेकर खुशियों के पल
नववर्ष की बहुत बहुत शुभकामनायें

फूल खिल कर चमन में खुशबू फैलाता है
प्यार किसी के दिल में मोहब्बत बरसाता है
दिसम्बर नए साल की याद दिलाता है
नया साल का सफर दोस्तों के साथ शुरू होता है

नए रंग हों नयी उमंगें, आँखों में उल्लास नया
नए गगन को छू लेने का मन में हो विश्वास नया
नए वर्ष में चलो पुराने मौसम का हम बदलें रंग
नयी बहारें लेकर आये जीवन में मधुमास नया
नएवर्ष की हार्दिक बधाई

इस साल आपके घर खुशियों की हो धमाल
दौलत की ना हो कमी आप हो जाएँ मालामाल
हँसते मुस्कुराते रहो ऐसा हो सबका हाल
तहे दिल से मुबारक हो आपको नया साल

मुबारक हो तुम्हें नववर्ष का महिना
चमको तुम जैसे फागुन का महिना
पतझड़ न आये आपकी जिन्दगी में
यही है दोस्त अपनी तम्मना

स्वागत है नव वर्ष तुम्हारा
अभिनंदन नववर्ष तुम्हारा
देकर नवल प्रभात विश्व को
हरो त्रस्त जगत का अंधियारा
हर मन को दो तुम नई आशा
बोलें लोग प्रेम की भाषा
समझें जीवन की सच्चाई
पाटें सब कटुता की खाई
जन-जन में सद्भाव जगे
और घर-घर में फैले उजियारा
“नववर्ष मंगलमय हो”

आपकी आँखों में सजे हैं जो भी सपने
और दिल में छुपी हैं जो भी अभिलाषाएं
यह नया वर्ष उन्हें सच कर जाए
आपके लिए यही है हमारी शुभकामनाएं
नव वर्ष की शुभकामनाएं

दस्तक दी किसी ने कहा सपने लाया हूँ
खुश रहो आप हमेशा इतनी दुआ लाया हूँ
आपको “हैप्पी न्यू ईयर” विश करने आया हूँ

ये साल अगर इतनी मोहलत दिलवा जाए तो अच्छा है
ये साल अगर हमको हमसे मिलवा जाए तो अच्छा है
चाहे दिल की बंजर धरती सागर भर आंसू पी जाए
ये साल मगर कुछ फूल नए खिलवा जाए तो अच्छा है
“नया साल मुबारक हो”

ये साल हमारी किस्मत को कुछ नए ढंग से आंकेगा
ये साल हमारी हिम्मत में कुछ नए सितारे टाँकेगा
इस साल अगर हम अंदर से दुःख की बदली को हटा सके
तो मुमकिन है इसी साल हम सबमें सूरज झांकेगा
“नववर्ष की शुभकामनायें”

बीत गया जो साल भूल जायें
इस नये साल को गले लगायें
करते हैं हम दुआ रब से सर झुका के
इस साल आपके पूरे हो जायें

इस रिश्ते को यूँ ही बनाये रखना
दिल में यादों में चिराग जलाये रखना
बहुत प्यारा रहा 2019 का सफर
2020 में भी ऐसा ही साथ बनाये रखना

नया साल नयी खुशियाँ लायेगा
नयी उम्मीदों को जगायेगा
परायापन को करके दूर
सबके दिलों में अपनेपन को लायेगा

शेर कभी छुपकर शिकार नहीं करते
बुजदिल कभी खुलकर वार नहीं करते
जानी हम वो हैं
जो हैप्पी न्यू ईयर कहने के लिए
1 जनवरी का इन्तजार नहीं करते

पहली मुलाकात में कुछ ऐसा हुआ अहसास
उनके मुहब्बत के दो लफ्ज थे बहुत ख़ास
आखिरी मुलाकात में कुछ तो कहना ही था उनसे
हम सोचते ही रह गए और गुजर गया साल
हैप्पी न्यू ईयर

नए साल की सुबह के साथ
आपकी जिंदगी भी उजालों से भर जाये
नया साल आपको और आपके परिवार को बहुत बहुत मुबारक हो

आखों में No Tear
दिल में No Fear
Forget Everything and Enjoy Dear
मेरे दोस्त
आपको दिल से हैप्पी न्यू ईयर

कभी हंसाती है, कभी रुलाती है
ये जिंदगी भी ना जाने कितने रंग दिखाती है
हँसते हैं तो कभी आँखों में नमी आ जाती है
न जाने ये कैसी यादें हैं जो दिल में बस जाती हैं
दुआ करते हैं इस नए साल के अवसर पर
मेरे दोस्तों के लबों पे सदा मुस्कान रहे
क्यूंकि उनकी हर मुस्कराहट हमें ख़ुशी दे जाती है

कल नई सुबह इतनी
सुहानी हो जाए;
आपके दुखों की सारी बातें
पुरानी हो जाएं;
दे जाए इतनी खुशियां
ये दिन आपको;
कि ख़ुशी भी आपकी
मुस्कुराहट की
दीवानी हो जाएं ।
नव वर्ष की बहुत-बहुत शुभकामनाए

नया रंग हो नयी उमंगें आँखों में उल्लास नया
नए गगन को छू लेने का मन में हो विश्वास नया
नए वर्ष में चलो पुराने मौसम का हम बदले रंग
नयी बहारें लेकर आये जीवन में मधुमास नया
नए वर्ष की हार्दिक बधाई

गुल को गुलशन मुबारक
चाँद को चांदनी मुबारक
शायर को शायरी मुबारक
आपको हमारी तरफ से
नया साल मुबारक

दस्तक दी, किसी ने कहा सपने लाया हूँ
खुश रहो आप हमेशा, इतनी दुआ लाया हूँ
नाम है मेरा एस एम एस
आपको हैप्पी न्यू ईयर विश करने आया हूँ
नया साल मुबारक हो

नया सवेरा एक नई किरण के साथ
नया दिन एक प्यारी मुस्कान के साथ
आपको ये नया साल मुबारक हो
मेरी ढेर सारी दुआओं के साथ

नया साल आया बनकर उजाला
खुल जाए आपकी किस्मत का ताला
हमेशा आप पर मेहरबान रहे ऊपर वाला
यही दुआ करता है आपका ये चाहने वाला
नया साल मुबारक

सदा दूर रहो ग़म की परछाइओं से
सामना ना हो कभी तन्हाइयों से
हर अरमान हर ख्वाब पूरा हो आपका
यही दुआ है दिल की गहराइयों से
नव वर्ष की शुभकामनाएं

डे बाई डे तेरी खुशियां हो जायें डबल
तेरी जिंदगी से डिलीट हो जायें सारे ट्रबल
खुदा रखे हमेशा तुझे स्मार्ट एंड फिट
तेरे लिये न्यू इयर हो सुपर डुपर हिट

पुराना साल सबसे अब हो रहा हैं दूर
क्या करे यही हैं, कुदरत का दस्तूर
बीती यादें सोचकर उदास ना हो तुम
करो खुशियों के साथ नए साल को मंजूर
नया साल तहे दिल से मुबारक हो

भूला दो बीता हुआ कल
दिल में बसाओ आने वाला कल
हँसो और हँसाओ चाहे जो भी हो पल
खुशियाँ लेकर आयेगा ये आने वाला कल
नव वर्ष की हार्दिक बधाई

इस नए साल में खुशियों की बरसाते हो
प्यार के दिन और मोहब्बत भरी राते हो
रंजिशे नफरते मिट जाए सदा के लिए
सभी के दिलो में सिर्फ ऐसी चाहतें हो

Contributor:

Teacher’s Day Shayari

शिक्षक दिवस पर शायरी

गुरु है गंगा ज्ञान की, करे पाप का नाश।
ब्रम्हा-विष्णु-महेश सम, काटे भाव का पाश।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

गुरु से भेद न मानिये, गुरु से रहें न दूर।
गुरु बिन ‘सलिल’ मनुष्य है, आँखें रहते सूर।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

गुरु-चरणों में बैठकर, गुर जीवन के जान।
ज्ञान गहे एकाग्र मन, चंचल चित अज्ञान।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

माटी से मूरत गढ़े, सद्गुरु फूंके प्राण।
कर अपूर्ण को पूर्ण गुरु, भव से देता त्राण।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

संस्कार की सान पर, गुरु धरता है धार।
नीर-क्षीर सम शिष्य के, कर आचार-विचार।।
हैप्पी टीचर्स डे

शिक्षक ईश्वर से बढ़कर होते है,
ये कबीर बतलाते है ,
क्यूंकि शिक्षक ही भक्तो को ,
ईश्वर तक पहुंचाते है !
शिक्षक दिवस कि शुभकामनाये

अक्षर – अक्षर हमें सिखाते ,
शब्द – शब्द का अर्थ बताते ,
कभी प्यार से कभी डाट से
जीवन जीना हमें सिखाते
शिक्षक दिवस कि हार्दिक शुभकामनाये

ज्ञान दीप कि ज्योति जलाकर ,
मन आलोकित कर दे,
विद्या का धन देकर शिक्षक ,
जीवन सुख से भर दे ,
करो प्रणाम अपने गुरु को,
जो सही दिशा दिखा दे ,
यह जीवन उन्होंने संवारा ,
तो क्यों न उन्हें अर्पण दे !
शिक्षक दिवस कि शुभकामनाये

अज्ञानता को दूर करके
ज्ञान की ज्योत जलाई है,
गुरुवर के चरणों में रहकर
हमने शिक्षा पाई है,
गलत राह पर भटके जब हम,
तो गुरुवर ने राह दिखाई है.
शिक्षक दिवस पर आप सब को हार्दिक बधाई हो…

गुरू बिना ज्ञान कहाँ,
उसके ज्ञान का आदि न अंत यहाँ।
गुरू ने दी शिक्षा जहाँ,
उठी शिष्टाचार की मूरत वहाँ।
शिक्षक दिवस पर आप सब को हार्दिक बधाई हो…

जिसे देता हैं हर व्यक्ति सम्मान,
जो करता हैं वीरों का निर्माण,
जो बनाता हैं इंसान को इंसान,
ऐसे गुरु को हम करते हैं प्रणाम.
शिक्षक दिवस कि हार्दिक शुभकामनाये

अक्षर – अक्षर हमें सिखाते ,
शब्द – शब्द का अर्थ बताते ,
कभी प्यार से कभी डाट से
जीवन जीना हमें सिखाते
शिक्षक दिवस कि हार्दिक शुभकामनाये

गुरूदेव के श्रीचरणों में
श्रद्धा सुमन संग वंदन
जिनके कृपा नीर से
जीवन हुआ चंदन
धरती कहती, अंबर कहते
कहती यही तराना
गुरू आप ही वो पावन नूर हैं
जिनसे रौशन हुआ जमाना
शिक्षक दिवस पर हार्दिक बधाई हो…

सही क्या है ? गलत क्या है ?
ये सबक पढ़ाते हैं आप,
झूठ क्या है ? सच क्या है ?
ये बात समझाते हैं आप,
जब सूझता नहीं कुछ भी ,
राहों को सरल बनाते हैं आप।
शिक्षक दिवस पर को हार्दिक बधाई हो…

गुमनामी के अंधेरे में था
पहचान बना दिया
दुनिया के गम से मुझे
अनजान बना दिया
उनकी ऐसी कृपा हुई
गुरू ने मुझे एक अच्छा
इंसान बना दिया
शिक्षक दिवस पर को हार्दिक बधाई हो…

ले गए आप इस स्कूल को उस मुकाम पर ,
गर्व से उठते हैं हमारे सर , हम रहे ना रहे कल ,
याद आएंगे आपके साथ बिताये हुए पल ,
हमे आपकी जरुरत रहेगी हर पल।
शिक्षक दिवस पर को हार्दिक बधाई हो…

गुरु का महत्व कभी होगा ना कम,
भले कर ले कितनी भी उन्नति हम,
वैसे तो है इंटरनेट पे हर प्रकार का ज्ञान,
पर अच्छे बुरे की नहीं है उसे पहचान…
शिक्षक दिवस पर को हार्दिक बधाई हो…

तुमने सिखाया ऊँगली पकड़ कर चलना,
तुमने सिखाया कैसे गिरने के बाद सम्भलना,
तुम्हारी वजह से आज हम पहुंचे है आज इस मुकाम पे,
आज शिक्षक दिवस के दिन करते है आभार सलाम से …
शिक्षक दिवस पर को हार्दिक बधाई हो…

आपने बनाया है मुझे इस योग्य,
कि प्राप्त करू मै अपना लक्ष्य ,
दिया है आपने हर समय इतना सहारा ,
जब भी लगा मुझे कि अब मै हारा ,
शिक्षक दिवस कि शुभकामनाये

माता-पिता ने जन्म दिया पर
गुरु ने जीने की कला सिखाई है
ज्ञान चरित्र और संस्कार की
हमने शिक्षा पाई है
हैप्पी टीचर्स डे

गुरु-चरणों में बैठकर, गुर जीवन के जान।
ज्ञान गहे एकाग्र मन, चंचल चित अज्ञान।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

गुरु की महिमा है अगम, गाकर तरता शिष्य।
गुरु कल का अनुमान कर, गढ़ता आज भविष्य।।
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

साक्षर हमें बनाते हैं
जीवन क्या है समझाते हैं
जब गिरते हैं हम हार कर तो साहस वही बढाते हैं
ऐसे महान व्यक्ति ही तो शिक्षक – गुरु कहलाते हैं
इस शिक्षक दिवस पर सभी गुरुजनों को कोटि-कोटि प्रणाम

अज्ञान को मिटा कर,
ज्ञान का दीपक जलाया हैं,
गुरू कृपा से मैने ये
अनमोल शिक्षा पाया हैं.
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!

सत्य का पाठ जो पढ़ाएँ
वही सच्चा गुरू कहलाये,
जो ज्ञान से जीवन को आसन बनाये
वही सच्चा गुरू कहलाये.
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!

Contributor:

Krishna Janmashtami Shayari

कृष्ण जन्माष्टमी शायरी

भादों का महीना है अष्टमी की रात आई
जग का उद्धार करने जन्में हैं कृष्णा कन्हाई।

माखन चोर नन्द किशोर,
बांधी जिसने प्रीत की डोर.
हरे कृष्ण हरे मुरारी,
पूजती जिन्हें दुनिया सारी,
आओ उनके गुण गाएं सब मिल के जन्माष्टमी मनाये.

बांके बिहारी का नाम लो सहारा मिलेगा,
ये जीवन न तुमको दुबारा मिलेगा,
डूब रही अगर कश्ती मझधार में,
कृष्णा के नाम से सहारा मिलेगा.

गोकुल में जो करें निवास,
गोपियों संग जो रचाएँ रास,
देवकी-यशोदा हैं जिनकी मैया,
ऐसे ही हमारे कृष्ण कन्हैया.
जय श्री कृष्ण

मुरली मनोहर कृष्ण कन्हैया,
जमुना के तट पे विराजे हैं,
मोर मुकुट पर कानों में कुंडल,
कर में मुरलिया साजे हैं…

माखन चुराकर जिसने खाया,
बंसी बजाकर जिसने नचाया,
ख़ुशी मनाओ उनके जन्म दिन की,
जिन्होंने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया.

चंदन की ख़ुशबू को रेशम का हार,
सावन की सुगंध और बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीद को कन्हैया का प्यार,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार

माखन चुराकर जिसने खाया
बंसी बजाकर जिसने नचाया
ख़ुशी मनाओ उनके जन्म दिन की
जिन्होंने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया

राधा की भक्ति, मुरली की मिठास
माखन का स्वाद और गोपियों का रास
सब मिलके बनाता हैं जन्माष्टमी का दिन ख़ास

माखन का कटोरा
मिश्री का थाल
मिट्टी की खुशबू
बारिश की फुहार
राधा की उम्मीद
कन्हैया का प्यार
मुबारक हो आपको
जन्माष्टमी का त्यौहार

मटकी तोड़े, माखन खाए फिर भी सबके मन को भाये,
राधा के वो प्यारे मोहन,महिमा उनकी दुनिया गाये।

Contributor:

Rakhi Shayari For Brother And Sister

भाई बहन के लिए राखी शायरी


प्रीत के धागों के बंधन में स्नेह का उमड़ रहा संसार,
सारे जग में सबसे सच्चा होता है भाई बहन का प्यार,
इस सच्चे प्यार को ही दर्शाता है यह राखी का पावन त्यौहार।

बहनों को भाइयों का साथ मुबारक हो
भाइयों की कलाइयों को बहनों का प्यार मुबारक हो
रहे ये सुख हमेशा आपकी जिन्दगीं में
आप सबको राखी का पावन त्यौहार मुबारक हो

सावन के महीने में राखी का त्यौहार आता हैं
परिवार के लिए जो कि ढेरों खुशियाँ लाता हैं
रक्षाबन्धन के पर्व की कुछ अलग ही बात हैं
भाई-बहन के लिए पावन प्रेम की सौगात हैं।
रक्षाबंधन की शुभकामनायें

राखी का है आया शुभ त्यौहार
बहनों की दुआएं भाइयों के लिए हज़ार
भाई बहन का यह अनमोल रिश्ता है बहुत अटूट
बना रहे यह बंधन हमेशा खूब

सावन भाई-बहन के रिश्ते को फिर से हरा-भरा करने,
पूर्णिमा के चाँद के साथ आया है,
राखी भाई की वचनबद्धता और बहन की ममता,
दुलार अपने संग लाया है।

चावल की खुशबु और केसर का सिंगार,
भाल तिलक और खुशियों की बौछार,
बहनो का साथ और बेसुमार प्यार,
मुबारक हो आपको राखी का त्यौहार।

बधाई हो बधाई राखी हैं आई,
मेरी प्यारी बहिना ढेर सारी मिठाई लाई,
सबसे सुंदर राखी उसने मेरी कलाई पर सजाई,
आई रे आई खुशियों की बेला आई||

Contributor:

Raksha Bandhan Shayari

रक्षाबंधन शायरी

बहन का प्यार किसी दुआ से कम नही होता,
दूर रहकर भी, भाई-बहन का प्यार कम नही होता.
अक्सर रिश्ते दूरियों से फीके पड़ जाते है
पर बहन भाई का प्यार कभी कम नहीं होता.
राखी की ढेर सारी शुभ कामनाएँ

वो बचपन की शरारते,
वो झूलों पे खेलना
वो माँ का डांटना,
वो पापा का लाड-प्यार
पर एक चीज़ और जो इन सब में ख़ास है
वो है मेरी प्यारी बहन का प्यार

कच्चे धागों से बनी पक्की डोर हैं राखी
प्यार और मीठी शरारतों की होड़ हैं राखी
भाई की लम्बी उम्र की दुआ हैं राखी
बहन के प्यार का पवित्र धुआं हैं राखी ।
रक्षाबंधन की शुभकामनायें

रेशम के धागों का है यह मजबूत बंधन
माथे पर चमके चावल रोली और चन्दन
प्यार से मिठाई खिलाये बहन प्यारी
देख इसे छलक उठीं आँखे,भर आया मन।
रक्षाबंधन की शुभकामनायें

रिश्ता है यह सबसे अलग और सादा
बहन बांधे राखी, भाई करे वादा
बहन और भाई का प्यार है बहुत सच्चा
इसी लिए माना जाता है यह रिश्ता सबसे अच्छा।
रक्षाबंधन की शुभकामनायें

रंग बिरंगी मौसम मे सावन की घटा छायी
खुशियों की सौगात लेकर बहना राखी बांधने आयी
बहन के हाथों से सजे भाई की कलाई
सदा खुश रहे बहन और भाई
रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनायें

रक्षाबंधन के पर्व की,
कुछ अलग ही बात है,
भाई बहिन के लिए,
पावन प्रेम की सौगात है,
रक्षा-बंधन की हार्दिक शुभकामनाएं।

आया है एक जश्न का त्यौहार,
जिसमे होता है भाई बहन का प्यार,
चलो मनाये रक्षा का ये त्यौहार।
रक्षा बंधन मुबारक।

रिश्ता है यह सबसे अलग और सादा
बहन बांधे राखी, भाई करे वादा
बहन और भाई का प्यार है बहुत सच्चा
इसी लिए माना जाता है यह रिश्ता सबसे अच्छा।
रक्षाबंधन की शुभकामनायें

चंदन का टीका रेशम का धागा,
सावन की सुगंध बारिश की फुहार,
भाई की उम्मीद बहिना का प्यार,
मुबारक हो आपको रक्षा-बंधन का त्यौहार।
रक्षा-बंधन की हार्दिक शुभकामनाएं।

सावन की बौछारों के बीच सुंदर पुष्प हैं खिला,
भाई बहन के रिश्ते की हैं यह पावन बेला,
घर में हैं ऐसी चहल पहल जैसे कोई मेला,
बहनों के लिए गीता गा रहा हैं भाई अलबेला।
हैप्पी रक्षाबंधन।

बहिना ने भाई की कलाई पे प्यार बाँधा है,
प्यार के दो तार से संसार बाँधा है,
रेशम की डोरी से संसार बाँधा है,
इस रिश्ते से बहन-भाई का प्यार बाँधा है।
शुभ रक्षा-बंधन

लड़ना झगड़ना हैं इस रिश्ते की शान,
रूठ कर मनवाना ही तो हैं इस रिश्ते का मान,
भाई बहनों में बसती हैं एक दूजे की जान,
करता हैं भाई पुरे बहन के अरमान।
रक्षा-बंधन की हार्दिक शुभकामनाएं।

रिश्ता हम भाई बहन का कभी मीठा कभी खट्टा,
कभी रूठना कभी मनाना, कभी दोस्ती कभी झगडा,
कभी रोना कभी हँसना, यह रिश्ता है प्यार का,
सबसे अलग सबसे अनोखा।
हैप्पी रक्षाबंधन।

Contributor: