Chetak Par Chadh Jisne Bhale Se Dushman Sandhare They


चेतक पर चढ़ जिसने, भाले से दुश्मन संघारे थे
मातृ भूमि के खातिर, जंगल में कई साल गुजारे थे

This picture was submitted by Smita Haldankar.

More Pictures

Leave a comment