Kareeb Allah Ke Aao To Koi Bat Bane

Muharram Mubarak Shayari
करीब अल्लाह के आओ तो कोई बात बने,
ईमान फिर से जगाओ तो कोई बात बने,
लहू जो बह गया कर्बला में,
उसके मकसद को समझो तो कोई बात बने.
मुहर्रम मुबारक

This picture was submitted by Smita Haldankar.

More Pictures

  • Muharram Mubarak Shayari

Leave a comment