Purane Mitr Chhutte Hai, Naye Mitr Bante Hai

Friendship in Hindi
पुराने मित्र छूटते हैं , नए मित्र बनते हैं .
यह दिनों की तरह ही है.
एक पुराना दिन बीतता है, एक नया दिन आता है.
महत्त्वपूर्ण यह है कि हम उसे सार्थक बनाएं :
एक सार्थक मित्र या एक सार्थक दिन.- दलाई लामा 🙂

This picture was submitted by Smita Haldankar.

More Pictures

  • Friendship in Hindi

Leave a comment