Aankhe Shayari

आँखे शायरी

ना देखा करो इन नशीली आँखों से
हमे नशा चढ़ जाएगा,
ना जलाया करो इन अदाओ से
हमे मोहब्बत का रंग चढ़ जाएगा।

आँसुओं से जिनकी आँखें नम नहीं,
क्या समझते हो कि उन्हें कोई गम नहीं?
तड़प कर रो दिए गर तुम तो क्या हुआ,
गम छुपा कर हँसने वाले भी कम नहीं…..।।

आँखो की नजर से नही हम दिल की नजर से प्यार करते है.. .! ! !
आप दिखे या ना दिखे फिर भी हम आपका दीदार करते है…!!!

रात गुमसुम हैं मगर चाँद खामोश नहीं,
कैसे कह दूँ फिर आज मुझे होश नहीं,
ऐसे डूबा तेरी आँखों के गहराई में आज,
हाथ में जाम हैं,मगर पिने का होश नहीं|

प्यार में यू लफ्जों का इस्तेमाल न कर…
मैं आंखों से भी सुन लूंगा , तू नजरों से बयान तो कर

Category: Shayari

Contributor:

~ Visit us daily for day wishes, quotes and festive greetings. ~

Leave a comment