Search

Srimad Bhagwad Gita Anmol Vachan – श्रीमद भगवद गीता अनमोल वचन

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 5

श्रीमद्भगवद्गीता (Shrimad Bhagwad Geeta) एक ऐसा ग्रन्थ है जिसमे जीवन का पूरा सार दिया हुआ है. मनुष्य के जन्म लेने से मृत्यु के बाद के चक्र को श्रीमद्भगवद्गीता में विस्तार से बताया गया है. मनुष्य के सांसारिक माया – मोह से निकलकर मोक्ष की प्राप्ति का सूत्र गीता में मौजूद है.

महाभारत के युद्ध में श्री कृष्ण (Shri Krishan) ने अर्जुन के द्वारा पूरे संसार को ऐसा ज्ञान दिया जिसे अपनाकर कोई व्यक्ति इस संसार में परम सुख और शांति से अपना जीवन व्यतीत कर सकता है.

Jise Tum Apna Samazkar Magn Ho Rahe Ho...Download Image
जिसे तुम अपना समझ कर मग्न हो रहे हो बस यही प्रसन्नता तुम्हारे दुखो का कारण हैं.
– श्री कृष्ण

Khali Hath Aaye Ho Aur Khali Hath Jana HaiDownload Image
खाली हाथ आये हो और खाली हाथ जाना हैं इसलिए व्यर्थ की चिंता छोड़कर व्यक्ति को हमेशा सद्कर्म करना चाहिए.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
क्रोध से भ्रम पैदा होता हैं,
भ्रम से बुद्धि व्यग्र होती हैं
तब तर्क नष्ट हो जाता हैं
जब तर्क नष्ट होता हैं
तब व्यक्ति का पतन हो जाता हैं.]
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
मन अशांत हो तो उसे नियंत्रित करना कठिन हैं
लेकिन अभ्यास से इसे वश में किया जा सकता हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
खुशियों में तो सब साथ होते हैं, असली दोस्त वही हैं जो दुःख में साथ दे.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
परिवर्तन ही संसार का नियम हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
जानने की शक्ति झूठ को सच से पृथक करने वाली जो विवेक बुद्धि हैं, उसी का नाम ज्ञान हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
मनुष्य अपने विश्वास से निर्मित होता हैं, जैसा वह विश्वास करता हैं, वैसा वह बन जाता हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
भूत और भविष्य में नही, जीवन तो इस पल में हैं अर्थात वर्तमान का अनुभव ही जीवन हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
तू करता वही हैं, जो तू चाहता हैं, होता वही है जो मैं चाहता हूँ, तू वही कर जो मैं चाहता हूँ फिर होगा वही, जो तू चाहता हैं.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
जो मन को नियंत्रित नही करते उनके लिए वह शत्रु के सामान कार्य करता हैं.
— श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
मेरा-तेरा, छोटा-बड़ा, अपना-पराया मन से मिटा दो फिर सब तुम्हारा हैं और तुम सबके हो.
– श्री कृष्ण

Krishna Ke Anmol KathanDownload Image
सदैव संदेह करने वाले व्यक्ति को कभी भी सुख नही मिल सकता.

HTML Embed Code
BB Code for forums
See More here: Bhagavad Gita Hindi Quote

Contributor:

More Pictures

Leave a comment