Worker Day Shayari Images ( कामगार दिवस शायरी इमेजेस )

Worker Day Shayari In Hindi
मजदूर अपना कर्म करता जरूर हैं,
इसलिए देश को उस पर गुरूर हैं.

Hatho Me Lathi Hai, Majboot Uski Kad-Kathi Hai
हाथो में लाठी हैं,
मजबूत उसकी कद-काठी हैं,
हर बाधा वो कर देता हैं दूर,
दुनिया उसे कहती हैं मजदूर.

Worker Day Hindi Shayari
परेशानियाँ बढ़ जाए तो इंसान मजबूर होता हैं,
श्रम करने वाला हर व्यक्ति मजदूर होता हैं.

Kisi Ko Kya Bataye Hum Kitne Majboor Hai Hum
किसी को क्या बताये कि कितने मजबूर हैं हम,
बस इतना समझ लीजिये कि मजदूर हैं हम.

Worker Day Hindi Shayari Image
जिन्दगी दिन-प्रतिदिन मजदूर हुई जा रही हैं,
और लोग ‘इंजिनियर साहब’ कहके ताने दिए जा रहे हैं.

Majdoor Kha Ke Sukhi Roti Bade Aaram Se Sota Hai
अमीरी में अक्सर अमीर अपनी सुकून को खोता हैं,
मजदूर खा के सूखी रोटी बड़े आराम से सोता हैं.

Worker Day Hindi Shayari Photo
किसी को क्या बताये कि कितने मजबूर हैं हम,
बस इतना समझ लीजिये कि मजदूर हैं हम.

Me Majdoor Hu Majboor Nahi
मैं मजदूर हूँ मजबूर नहीं,
यह कहने में मुझे शर्म नहीं,
अपने पसीने की खाता हूँ,
मैं मिटटी को सोना बनाता हूँ.

Hum Majdoor Ki Duniya Kali Hai
होने दो चरागाँ महलों में
क्या हम को अगर दीवाली हैं,
मजदूर हैं हम मजदूर हैं हम
मजदूर की दुनिया काली हैं.
-जमील मजहरी

Aane Wale Jane Wale Ke Liye Aadami Majdoor Hai
आने वाले जाने वाले के लिए,
आदमी मजदूर हैं राहें बनाने के लिए.
-हफ़ीज जालंधरी

Majdoor Kabhi Nind Ki Goli Nahi Khata
सो जाता हैं फुटपाथ पे अखबार बिछा कर,
मजदूर कभी नींद की गोली नहीं खाता.
-मुनव्वर राना

More Pictures

    None Found

Leave a comment