Bahar Kya Dikhlaye, Antar Japiye Ram


बाहर क्या दिखलाये , अंतर जपिए राम |
कहा काज संसार से , तुझे धानी से काम ||

अर्थ :
बाहरी दिखावे कि जगह, मन ही मन में राम का नाम जपना चाहिए। संसार कि चिंता छोड़कर, संसार चलाने वाले पर ध्यान देना चाहिए।

This picture was submitted by Smita Haldankar.

More Pictures

Leave a comment