Search

Shubh Ravivar Suryadev Images And Quotes (शुभ रविवार सूर्य देव के इमेजेस और कोट्स)

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 5

रविवार यह सूर्यदेव का वार माना जाता है. यहाँ पर सूर्यदेव के बारे में इमेजेस एवं सन्देश है…अपने मित्र एवं परिवार से सूर्यदेव को हनुमानजी के इमेजेस शेयर करे.

Happy Sunday Suryadev Hindi StatusDownload Image
जगत के परम सत्ता परब्रहम परमेश्वर ,
शांति स्थापित करे |
तीनो लोको में ,  जल में, धरती में और आकाश  में
अन्तरिक्ष में, अग्नि में , पवन में, औषधि में , वनस्पति वन में , उपवन में
सम्पूर्ण विश्व में अवचेतन मे शांति करे |
जीवमात्र के ह्रदय में , मुझमे , तुझमे शांति |
जगत के कण कण में ,

Shubh Ravivar Suryadev MantraDownload Image
एहि सूर्य! सहस्त्रांशो! तेजो राशे! जगत्पते!
अनुकम्प्यं मां भक्त्या गृहाणार्घ्य दिवाकर!
अर्थ- हे सहस्त्रांशो! हे तेजो राशे! हे जगत्पते!

मुझ पर अनुकंपा करें। मेरे द्वारा श्रद्धा-भक्तिपूर्वक दिए गए
इस अर्घ्य को स्वीकार कीजिए, आपको बारंबार शीश नवाता हूं।

Happy Sunday Suryadev MantraDownload Image
ॐ द्यौ: शान्तिरन्तरिक्षँ शान्ति:,
पृथ्वी शान्तिराप: शान्तिरोषधय: शान्ति:।
वनस्पतय: शान्तिर्विश्वे देवा: शान्तिर्ब्रह्म शान्ति:,
सर्वँ शान्ति:, शान्तिरेव शान्ति:, सा मा शान्तिरेधि॥
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

Shubh Ravivar Bhagwan Surya DevDownload Image
“भानु रविवार के स्वामी हैं, ब्रह्मा जी के मुख से ॐ शब्द प्रगट हुआ,
ब्रह्मा जी के चारों मुख से चार वेद और ओंकार के तेज से मिलकर सूर्य देव का प्रगट हुआ स्वरूप,
भर सर्दी में हमें राहत देती है भानु की धूप।
दिनेश की रश्मियां जब घर-घर आती हैं, खुशी की लहर सी दौड़ जाती है…
इसलिए समृद्धि करती है आदित्य को प्रणाम,
रविवार को सूर्य देव जी को जल अर्पण करने का सबसे पहले करे काम।”

Shubh Prabhat Ravivar Download Image
ॐ सूर्याय नम: 🌹
रविवार की शुभ कामनाएं।
“भास्कर की तेज ऊर्जा के संग, ओम का उच्चारण सुनाई देता है,
सभी श्लोक और मंत्रों का उच्चारण ओम शब्द से ही शुरू होता है…
NASA ने इस ध्वनि को सारे संसार को अब है बताया, ऋषि-मुनियों ने पहले से ही वेदों के द्वारा अवगत था कराया…

Shubh Prabhat RavivarDownload Image
शुभ प्रभात वंदन नमस्कार.।
शुभ रविवार मंगलमय हो।
जय श्री सूर्य देवाय नमो नमः।।🌹
“भास्कर की जो व्यक्ति रविवार को आराधना करते हैं,
उनके चेहरे पर तेज रहता है ऐसे व्यक्ति दूसरों को आकर्षित करते हैं।
क्योंकि दिनकर की उर्जा से नकारात्मक सोच से मुक्ति मिलती हैं और सकारात्मक उर्जा का संचार होने लगता है।
स्वभाव में निडरता और शरीर बलवान रहता है समृद्धि का यही है कहना यदि मन से अहंकार,हीन भावना,ईर्ष्या से दूर है रहना तो आदित्य पर प्रत्येक रविवार जल अर्पण करते रहना।”

RavivarDownload Image
शुभ प्रभात शुभ रविवार
हे! सूर्य देव, मेरे अपनो को यह पैगाम देना;
खुशियों का दिन, हँसी की शाम देना;
जब कोई पढे प्यार से, मेरे इस पैगाम को;
तो उन को चेहरे पर, प्यारी सी मुस्कान देना। 🌹
रविवार को भास्कर पर जिसने जल है चढ़ाया,
दिनकर की कृपा के साथ-साथ उस मनुष्य ने निरोगी शरीर भी पाया।”

Suprabhat Happy SundayDownload Image
“रविवार के दिन दिनकर का करें ध्यान,
सूर्य को जल चढ़ाकर रवि को करे प्रणाम
प्रत्यक्ष देव के रूप में श्री मार्तंड है विद्यमान…
दिनेश के उदय होने से सभी जीव जंतुओं में पड़ते हैं प्राण।”

Beautiful Sunday Surya Bhagwan ImageDownload Image
“सूर्य से ही इस पृथ्वी पर जीवन है,
वैदिक काल से ही भारत में सूर्योपासना का प्रचलन है।
ज्योतिष शास्त्र में नव ग्रहों में सूर्य को राजा का पद प्राप्त है, सूर्य सर्व प्रकाशक, सर्व कल्याणकारी, सूर्य भगवान का नेत्र है।
रविवार को समृद्धि करती भास्कर को नमस्कार है,
इन्हीं के द्वारा दिन-रात सृजन होता है, यही सारे जग का आधार है।
रविवार को सूर्य पर जल चढ़ाएं, उस जल से रवि के दर्शन करके आंखों की रोशनी बढ़ाएं।”

Beautiful Sunday Surya BhagwanDownload Image
“आत्मशुद्धि और आत्मबल बढ़ाने के लिए, भास्कर को करें प्रणाम।
नियमित जल देने से सूर्य को शरीर बनता है ऊर्जावान
सूर्य की तरह चमकना चाहते हो तो सीख लो जलना सूर्य समान…
रविवार के दिन समृद्धि का आप सब को प्रणाम।”

Beautiful Sunday Surya Devay NamahDownload Image
“पृथ्वी जिस के गिर्द घूमती हैं, रविवार आदित्य का दिन आया है,
भानु को जल अर्पण व नमस्कार करना समृद्धि को भारतीय संस्कृति ने सिखाया है…
भास्कर की गुरुत्वाकर्षण शक्ति के कारण समस्त ग्रह इसकी तरफ खिंचे रहते हैं,
प्रभाकर की ऊर्जा पेड़, पौधे, समुद्र ,सोख लेते हैं।
दिनेश की ऊर्जा पानी को भाप बनाने में काम आती है, इसलिए दिवाकर की नर्म धूप सर्दियों में खूब भाती है।”

Shubh Ravivar Om Shri Surydevay NamahDownload Image
ॐ आदित्याए नमः" कहकर भास्कर को नमन कीजिए,
दिवाकर आत्मा का कारक है,आत्मा को शुद्ध कीजिए।
सबसे शक्तिशाली ग्रह है,प्रत्यक्ष देव का रूप है दिनकर,
निरोग रहेंगे सदा सूर्य देव को जल अर्पण करेंगे अगर ।
भानु को नमस्कार करने का करिए सबसे पहला काम, रविवार को समृद्धि का आप सब को प्रणाम। ”

Shubh Prabhat Ravivar PhotoDownload Image
ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान।
जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा।
धरत सब ही तव ध्यान, ऊँ जय सूर्य भगवान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

Shubh Prabhat Ravivar PhotoDownload Image
सारथी अरूण हैं प्रभु तुम, श्वेत कमलधारी। तुम चार भुजाधारी॥
अश्व हैं सात तुम्हारे, कोटी किरण पसारे। तुम हो देव महान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

Happy Sunday Om Shri Surya Devay NamahDownload Image
ऊषाकाल में जब तुम, उदयाचल आते। सब तब दर्शन पाते॥
फैलाते उजियारा, जागता तब जग सारा। करे सब तब गुणगान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

Shubh Ravivar Om Shri Surydevay NamahDownload Image
संध्या में भुवनेश्वर अस्ताचल जाते। गोधन तब घर आते॥
गोधुली बेला में, हर घर हर आंगन में। हो तव महिमा गान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…

Shubh Ravivar Bhagwan Sury Dev Ki JaiDownload Image
देव दनुज नर नारी, ऋषि मुनिवर भजते। आदित्य हृदय जपते॥
स्त्रोत ये मंगलकारी, इसकी है रचना न्यारी। दे नव जीवनदान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

Shubh Ravivar Surya DevDownload Image
तुम हो त्रिकाल रचियता, तुम जग के आधार। महिमा तब अपरम्पार॥
प्राणों का सिंचन करके भक्तों को अपने देते। बल बृद्धि और ज्ञान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

Shubh Ravivar Om Surydevay NamahDownload Image
भूचर जल चर खेचर, सब के हो प्राण तुम्हीं। सब जीवों के प्राण तुम्हीं॥
वेद पुराण बखाने, धर्म सभी तुम्हें माने। तुम ही सर्व शक्तिमान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

पूजन करती दिशाएं, पूजे दश दिक्पाल। तुम भुवनों के प्रतिपाल॥
ऋतुएं तुम्हारी दासी, तुम शाश्वत अविनाशी। शुभकारी अंशुमान॥
॥ ऊँ जय सूर्य भगवान…॥

ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान।
जगत के नेत्र रूवरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा॥
धरत सब ही तव ध्यान, ऊँ जय सूर्य भगवान॥

HTML Embed Code
BB Code for forums
See More here: Shubh Prabhat (शुभ प्रभात )

Contributor:

More Pictures

  • Shubh Prabhat Quote Duniya Me Shanti
  • Shubh Prabhat Shri Krishna Govind Hare Murari
  • Shubh Prabhat Om Vinayakaya Namaha
  • Shubh Prabhatbh Jai Shri Ram Jai Shri Hanuman
  • Om Sairam Shubh Guruvar

Leave a comment