Sad Quotes in Hindi

Khamoshi Se Rone Walo Ka Dard SamjhnaDownload Image
1. ख़ामोशी से रोने वालो का दर्द समझना !
ये हर किसी के बसकी बात नहीं !!

2. “अकेले ही गुज़रती है ज़िन्दगी !
लोग तसल्लियाँ तो देते है पर साथ नहीं !!

3. “सोचा था एक घर बनाकर बैठूंगा सुकून से !
लेकिन घर की ज़रूरतो ने मुसाफिर बना दिया !!”

4. “भूलने वाली बातें याद हैं !
इसलिए ज़िन्दगी में विवाद है !!”

5. “गुज़र जायेगा ये दौर भी ज़रा सब्र तो रख !
जब खुशियाँ ही न रुकी तो ग़म की क्या औकात
है !!”

6. “चेहरे बदल जाए तो कोई तकलीफ नहीं !
अगर लेहज़े बदल जाए तो बहुत तकलीफ होती
है !”

7. “बहुत अंदर तक तबाह कर देते हैं !
वो अश्क़ जो आँखों से गिर नहीं पाते !!”

8. “किसी इंसान को दर्द देना इतना आसान होता है
जितना समुद्र में पत्थर फेकना !
लेकिन यह कोई नहीं जनता की वह कितनी
गहराई तक गया होगा !!”

9. “ज़िन्दगी में मंज़िले तो मिल ही जाती हैं !
लेकिन वो लोग नहीं मिलते जिन्हें दिल से चाहा
हो !”‘

10. “छोटे बच्चे के निकले आंसू और प्यार में निकले
आंसू दोनों एक सामान हैं !
दोनों को पता है कि दर्द कहा है लेकिन किसी को
बता नहीं सकतें !!”

11. “आँसुओ का कोई वज़न नहीं होता !
लेकिन निकल जाने पर मन हल्का हो जाता है !!

12. “दिल में आने का रास्ता तो होता है, लेकिन जाने
का नहीं !
इसलिए जो भी जाता है दिल तोड़कर जाता
है !!”

13. “हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का !
बड़ी मासूमियत से कहते हैं मजबूर थे हम !!

14. “हर किसी में तुझे पाने की कोशिश की !
बस एक तुझे न पाने के बाद !!

15. “हँसकर दर्द छुपाने का हुनर मशहूर था मेरा !
पर कोई हुनर काम न आया जब तेरा नाम
आया !!”

16. “जल्दी सो जाया करो दोस्तों !
यूँ रातभर जागने से मोहब्बत लौट कर नहीं
आती !!”

17. “यूँ सिमट गया मेरा प्यार चंद अल्फाज़ो में !
जब उसने कहा मोहब्बत तो है पर तुमसे नहीं !!”

18. “ज़रा सी वक़्त ने करवट क्या ली !
गैरों की लाइन में सबसे आगे अपनों को पाया
हमने !!”

19. “लोग कहते हैं दु:ख बुरा होता है जब भी आता है
रुलाकर जाता है !
लेकिन हम कहते दु:ख अच्छा होता है जब भी
आता है कुछ सीखा कर जाता है !!”

20. “रूठूँगा तुझसे तो इस क़दर रूठूँगा
तेरी आँखे तरस जाएगी मेरी एक झलक को !!”

21. “यही सोचकर सफाई नहीं दी हमने !
इल्ज़ाम भले ही झूठे हैं पर लगाए तो तुमने हैं !!”

22. “मैं कहाँ जनता हूँ दर्द की क़ीमत !
मेरे अपनों ने मुझे मुफ्त में दिया है !!”

23. “मेरी हर आह ! के बदले वाह ! मिली है मुझको !
कौन कहता है कि दर्द बिकता नहीं !!”

24. “तू मेरी चाहत का एक लफ्ज़ भी नहीं पढ़ सकी !
और मैं तेरे दिए हुए दर्द की किताब को रोज़
पढ़ते पढ़ते सोता हूँ !!”

25. “तुम अपने ज़ुल्म की इन्तेहा करदो !
क्या पता फिर कोई हमसे बेज़ुबाँ मिले न मिले !!”

26. “रिश्तें उन्ही से बनाओ !
जो निभाने की औकात रखते हों !!”

27. “धोखा देने के लिए शुक्रिया तेरा !
तुम न मिलती तो दुनिया की समझ न आती !!”

28. “ये दिन भी क़यामत की तरह गुज़रा है !
न जाने क्या बात थी हर बात पर रोना आया !!”

29. “न जाने किस कॉलेज से ली थी मोहब्बत की
डिग्री उसने !
जितने भी मुझसे वादे किये थे सब फ़र्ज़ी
निकले !!”

30. “कोई सिखादे मुझे भी अपने वादों से मुक़र
जाना !
बहुत थक चुका हूँ निभाते-निभाते !!”

31. “अभी धूप निकलने के बाद भी जो सोया है !
वो ज़रूर तेरी याद में रातभर रोया है !!”

32. “उम्मीद से बढ़कर निकली तुम तो !
मैंने तो सोचा था दिल ही तोड़ोगी तुमने तो मुझे
ही तोड़ दिया !!”

33. “जो लोग दर्द को समझते हैं !
वो लोग कभी दर्द की वजह नहीं बनते !!”

34. “मैं हमेशा डरता था उसे खोने से !
उसने ये डर ही ख़त्म कर दिया मुझे छोड़कर !!”

35. “जहां कभी तुम हुआ करते थे !
वहां अब दर्द होता है !!”

36. “आज तन्हा हुए तो अहसास हुआ !
कई घण्टे होते है एक दिन में !!”

37. “मेरी ख़ामोशी हज़ार आवाज़े लगाती है !
पर अफ़सोस वो तुम सुन नहीं सकतें !!”

38. “कुछ बातें समझाने से नहीं !
खुद पर बीत जाने से समझ आती हैं !!”

39. “लोग कहते हैं हमसे तुम बहुत बदल गए हो !
तो अब क्या टूटे हुए पत्ते रंग भी न बदलें !!”

40. “मुस्कुराते हुए इंसान की कभी जेबे देखना !
हो सकता है रूमाल गिला मिले !!”

41. “हिम्मत नहीं इतनी की दस्ताने ज़िन्दगी सुना सकें
अपनी !
मुख़्तसर सी सुनो जिसने भी दिल तोड़ा जी भर
के तोड़ा !!”

42. “वो किताबों में लिखा नहीं था !
जो सबक़ ज़िन्दगी ने सिखाया मुझे !!”

43. “कोशिशों के बाद भी जो पूरी न हो सकें !
तेरा नाम भी उन्हीं ख्वाहिशों में है !!”

44. “ज़िन्दगी की हक़ीक़त को बस इतना ही जाना है !
दर्द में अकेले हैं खुशियों में ज़माना है !!”

45. “न जाने किस दरबार का चिराग़ हूँ मैं !
जिसका दिल करता है जलाकर छोड़ देता है !!”

46. “जिनके दिल पर चोट लगती है !
वो अक्सर आँखों से नहीं दिल से रोते हैं !!”

47. “निकाल दिया उसने मुझे अपनी ज़िन्दगी से भीगे
कागज़ की तरह !
न लिखने के क़ाबिल छोड़ा न जलने के !!”

48. “इश्क़ सिर्फ मुझे हुआ था !
उसे तो बस कुछ पल का नशा हुआ था !!”

49. “जिस्म के ज़ख्म का इलाज तो मुमकिन है !
लेकिन रूह के ज़ख्म का हकीम नहीं कोई !!”

50. “हो सकें तो अब कोई सौदा न करना !
पिछली दिल्लगी में सब कुछ हार चुका हूँ मैं !!”

51. “जो लोग सबकी फ़िक्र करते हैं !
अक्सर उनकी फ़िक्र करने वाला कोई नहीं
होता !!”

52. “तेरे बाद हमने दिल का दरवाज़ा खोला ही नहीं !
वरना बहुत से चाँद आए इस घर को सजाने के
लिए !!”

53. “अगर क़िस्मत लिखने का हक़ मेरी माँ का होता !
तो मेरी ज़िन्दगी में एक भी ग़म न होता !!”

54. “मेरी कोशिश हमेशा से नाकाम रही !
पहले तुम्हें पाने की अब तुम्हें भुलाने की !!”

55. “नाज़ुक लगते थे जो लोग !
वास्ता पड़ा तो पत्थर के निकले !!”

56. “तुमसे मोहब्बत करने का गुनाह किया था !
तुमने तो पल पल मरने की सज़ा दे दी !!”

57. “भूल जाना तो ज़माने की फितरत है !
पर तुमने शुरुआत हमसे ही क्यों की !!”

58. “दर्द कम नहीं हुआ है मेरा !
बस सहने की आदत हो गयी है !!”

59. “वो मेरे साथ चलते तो थे !
मगर किसी और की तलाश में !!”

60. “दुबारा इश्क़ होगा तो तुझसे ही होगा !
खफा हूँ मैं बेवफा नहीं !!”

61. “क्या फायदा है अब रोने से !
जो प्यार न समझा वो दर्द क्या समझेगा !!”

62. “मेरे ग़म का छोटा सा हिस्सा लेकर तो देखो !
मरने की ख्वाहिश न करने लगे तो कहना !!”

63. “जब तुम्हारा दिल चाहे लौट आना !
इंतेज़ार की आदत है मुझे !!”

64. “मोहब्बत सच्ची हो तो लौट कर ज़रूर आती है !
खैर छोड़ो सब कहने की बाते हैं !!”

65. “मुझसे बिछड़ के ख़ुश रहते हो !
लगया है मेरी तरह तुम भी झूठे हो !!”

66. “मुझे कहाँ से आएगा लोगों का दिल जीतना !
मैं तो अपना भी हार बैठा हूँ !!”

67. “लोग कहते है समझो तो खामोशियाँ भी बोलती
हैं !
मैं बरसो से खामोश हूँ और बरसो से बेखबर !!”

68. “सुना है मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले !
हमारी बारी आई तो रिवाज ही बदल गया !!”

69. “एक उम्र बीत गयी तुझे चाहते हुए !
तू आज भी बेखबर है कल की तरह !!”

70. “मेरे बर्दाश्त करने का अंदाज़ा तू क्या लगायेगी !
तेरी उम्र से कही ज़्यादा मेरे जिस्म पर ज़ख्मो के
निशाँ हैं !!”

71. “तमन्नाओ की महफ़िल तो हर कोई सजाता है !
पर पूरी उसकी होती है जो तक़दीर लेकर आता
है !!”

72. “सूखे पत्ते की तरह थे हम !
किसी ने समेटा भी तो सिर्फ जलाने के लिए !!”

73. “तजुर्बा एक बार का ही इबरत के लिए काफ़ी
था !
मैंने देखा नहीं इश्क़ दुबारा करके !!”

74. “अगर मुमकिन हो तो मुझे अपना बनालो तुम !
मेरी तन्हाईयाँ गवाह है मेरा अपना कोई भी
नहीं !!”

75. “अभी तक मौजूद हैं मेरे दिल पर तेरे क़दमों के
निशाँ !
हमने तेरे बाद इस राह से किसी को गुज़रने नहीं
दिया !!”

76. “ज़िन्दगी में कभी अगर मेरा ख्याल आये तो एक
बार सोचना ज़रूर !
वो कौन सी मोहब्बत थी जो हम तुम्हें न दें
सकें !!”

77. “वो एक ख़त जो उसने कभी लिखा ही नहीं !
मैं हर रोज़ उसका जवाब तलाश करता हूँ !!”

78. “तेरे बाद न आएगी इस ज़िन्दगी अब कोई और !
एक मौत है जिसकी हम क़सम नहीं दें सकतें !!”

79. “बहुत कुछ बदला है मैंने अपने आप में !
लेकिन तुझे याद करने की वो आदत आज भी
बाक़ी है !!”

80. “लोग हमेशा गलत इंसान से धोखा खाने के बाद !
अच्छे इंसान से बदला लेते हैं !!”

81. “मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में !
बस हम गिनती उसकी करते हैं जो हासिल न हो
सका हो !!”

82. “वो हमसे पूछते हैं कहाँ रहते हो आज कल !
काश ! हमसे पूछने से पहले उन्होंने अपने दिल में
झाँक लिया होता !!”

83. “इतनी बदसलूकी न कर ए ज़िन्दगी !
हम कौन सा यहाँ बार बार आने वाले हैं !!”

84. “नादान हैं वो लोग जो इश्क़ नहीं करते !
अरे ! जिगरा चाहिए बर्बाद होने के लिए !!”

85. “दर्द मुझको ढूंढ़ लेता है रोज़ नए बहाने से !
वो हो गया वाक़िफ़ मेरे हर ठिकाने से !!”

86. “अपनी पीठ से निकले खंजरों को जब गिना मैंने !
ठीक उतने ही निकले जितनो को गले लगाया था
मैंने !!”

87. “हमें पता है तुम कहीं और के मुसाफिर हो !
हमारा शहर तो बस यूंही रास्ते में आया था !!”

88. “माना मौसम भी बदलते हैं मगर धीरे-धीरे !
तेरे बदलने की रफ़्तार से तो हवाएं भी हैरान
हैं !!”

89. “असली तकलीफ तो ये ज़िन्दगी देती है !
मौत तो बस यूंही नाम से बदनाम है !!”

90. “बहुत खूबसूरत है न मेरा ये वहम !
कि तुम जहां भी हो सिर्फ मेरे हो !!”

91. “ज़िन्दगी में कुछ ज़ख्म ऐसे होते है जो कभी नहीं
भरते !
बस इंसान उन्हें छुपाने का हुनर सीख जाता
है !!”

92. “क़ाश तुम मेरे होते !
क़ाश ये अल्फाज़ तेरे होते !!”

93. “कौन समझ पाया आज तक हमें !
हम अपने हादसों के अकेले गवाह हैं !!”

94. “मोहब्बत भी उधार की तरह है !
लोग ले तो लेते है मगर देना भूल जाते हैं !!”

95. “मुझे यकीन है एक दिन तुम्हारी आँखों में मेरे लिए
आंसू आएंगे ज़रूर !
चाहे वो दिन मेरी मौत का दिन ही क्यों न हो !!”

96. “आ देख मेरी आँखों के ये भीगे हुए मौसम !
किसने कह दिया तुझे भूल गए हम !!”

97. “दिल को तोड़कर जाने से क्या हासिल हुआ
तुमको !
मार ही देते तो यूं रात की तन्हाई में रोना न
पड़ता !!”

98. “सफर ज़िन्दगी का ज़रा छोटा था उसके साथ !
पर वो शख्स एक याद सा हो गया पूरी ज़िन्दगी
के लिए !!”

99. “मोहब्बत और नौकरी में कोई फर्क नहीं !
इंसान करता रहेगा, रोता रहेगा पर छोड़ेगा
नहीं !!”

100. “तरस गए हैं हम तेरे मुँह से कुछ सुनने को !
प्यार की बात न सही कोई शिकायत ही कर
दें !!”

101. अब ना कोई वादा रहा और ही ना कोई हिस्सा रहा, मैं टूट कर बिखरता रहा बस यही मेरी किस्सा रहा…!!

102. उदास करती है मुझे हर रोज़ ये शाम,
ऐसा लगता है जैसे कोई भुला रहा है धीरे-धीरे…!!

103. “बनना है तो किसी के दर्द की दवा बनो !
जख्म तो हर इंसान देता है !!”

This picture was submitted by Smita Haldankar.

More Pictures

  • Safalta Aksar Unhi Logo Ke Kadam
  • Utna He Bolo Juban Se
  • Women’s Inspirational Hindi Quotes
  • Hindi Prayer For Eradication Of Corona Virus From World
  • Mask Status Quotes Hindi Images
  • Best Attitude Status in Hindi for Whatsapp DP
  • Kuchh Log Kismat Ki Tarah Hote Hai
  • Agar Apko Logo Ke Dil Pe Raj Karna Hai
  • Talash Dil Ko Sirf Sukoon Ki Hoti Hai

Leave a comment