Sukh Hindi Suvichar Images ( सुख पर अनमोल सुविचार इमेजेस )

Sukh Dukh
सुख दुःख तो अतिथि है,
बारी बारी आयेंगे चले जायेंगे..

यदि वो नहीं आयेंगे तो,
हम अनुभव कहाँ से लायेंगे..

Sukh Hindi Suvichar
Life का सबसे बड़ा सुख
खुद की सहायता करके नहीं
दुसरो को सहायता करने से मिलता है।
जो कभी भी कोई भी पा सकता है।

Sukh Hindi Suvichar
आदमी अपना दुख तो किसी तरह बर्दाश्त कर लेता है,
लेकिन उससे दूसरों का सुख बर्दाश्त नही होता।

Sukh Aur Dukh


दुःख में स्वयं की एक अंगुली
आंसू पोंछती है,
और सुख में दसो अंगुलियाँ
ताली बजाती है,
जब स्वयं का शरीर ही ऐसा
करता है तो
दुनिया से क्या गिला-शिकवा
करना…!!
अतः
हँसते रहिये, हँसाते रहिये
और
सबका भला करते रहिये..!! 🙂

Sukh Hindi Suvichar
सुख हमें नहीं मिल सकता
यदि विश्वास हम किन्हीं चीजों में करें,
और अमल करें किन्हीं और चीज़ों पर।

Sukh Hindi Suvichar
सच बात तो यह है की ,
जीवन के सारे दुखों का एक ही Reason है
……वह है चिंता …!
कष्ट आने से पहले बार-बार उसकी आशंका की Habit छोड दे,
तो हमारे कष्ट अपने आप ही दूर हो जायेंगे |

Sukh Hindi Suvichar
अगर थोड़े से आराम को छोड़ने से व्यक्ति
एक बड़ी खुशी को देख पाता है,
तो एक समझदार व्यक्ति को चाहिए कि
वह थोड़े से आराम को छोड़कर
बड़ी खुशी को हासिल करे |

Sukh Hindi Suvichar
ज़िन्दगी सिक्के के दो पहलुओं की तरह है!
कभी सुख तो कभी दुःख,
जब सुख हो तो घमंड मत करना,
और जब दुःख हो तो थोड़ा सब्र जरूर करना…

Sukh Hindi Suvichar
साझा की गई खुशी दुगनी होती है,
साझा किया गया दुख आधा होता है।

Sukh Hindi Suvichar
ज़िन्दगी सिक्के के दो पहलुओं की तरह है !
कभी सुख तो कभी दुःख, जब सुख हो तो घमंड मत करना,
और जब दुःख हो तो थोड़ा सब्र जरूर करना…

Sukh Hindi Suvichar
जीवन के प्रति जिस व्यक्ति कि
कम से कम शिकायतें है, वही इस जगत में
अधिक से अधिक सुखी है।

Sukh Hindi Suvichar
चाहे राजा हो या किसान,
वह सबसे ज़्यादा सुखी है,
जिसको अपने घर में
शान्ति प्राप्त होती है। ~ गेटे

Sukh Hindi Suvichar
जीवन का वास्तविक सुख,
दूसरों को सुख देने में हैं,
उनका सुख लूटने में नहीं।
~ मुंशी प्रेमचंद

Sukh Hindi Suvichar

More Pictures

  • Kuchh Log Kismat Ki Tarah Hote Hai
  • Karma Hindi Suvichar Images
  • Sansar Me Keval Manushy Ko Hi Hasne Ka Gun Hai
  • Samay Bahara Hai Kisiki Nahi Sunta
  • Rishtey Bhi Tash Ke Patto Ki Tarah
  • Parivar Hindi Suvichar
  • Jivan Me Hum Dosto Ko Kabhi Nahi Khote Hai
  • Bina Kitabo Ki Zindagi Suvichar

Leave a comment