Search

Meerabai Bhajan Pictures, Graphics & Messages For Facebook, Whatsapp, Pinterest, Instagram

Prabhu Mere Avgun Chit Na Dharo Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 15
Prabhu Mere Avgun Chit Na Dharo Lyrics Download Image

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो | समदर्शी प्रभु नाम तिहारो, चाहो तो पार करो || एक लोहा पूजा मे राखत, एक घर बधिक परो | सो दुविधा पारस नहीं देखत, कंचन करत खरो || एक नदिया एक नाल कहावत, मैलो नीर भरो | जब मिलिके दोऊ एक बरन […]

Contributor:

O Ji Hari Kit Gaye Neha Lagaye Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
O Ji Hari Kit Gaye Neha Lagaye Lyrics Download Image

हो जी हरि! कित गए नेहा लगाय नेह लगाय मेरो मन हर लियो, रस-भरी टेर सुनाय मेरे मन में ऐसी आवै, प्राण तजूँ विष खाय छाँड़ि गए बिसवासघात करि, नेह की नाव चढ़ाय ‘मीराँ’ के प्रभु कब रे मिलोगे, रहे मधुपुरी छाय This picture was submitted by Smita Haldankar.

Contributor:

Mere To Giridhar Gopal Dusro Na Koi

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
Mere To Giridhar Gopal Dusro Na Koi Download Image

मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोई.. मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोई, मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोई॥ जाके सिर मोर मुकुट मेरो पति सोई। तात मात भ्रात बंधु आपनो न कोई॥ छांडि द कुलकी कानि कहा करिहै कोई। संतन ढिग बैठि बैठि लोकलाज खोई॥ चुनरी के किये टूक ओढ़ लीन्ही लोई। […]

Contributor:

Manmohan Kanha Vinti Karu Din Ren Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 5
Manmohan Kanha Vinti Karu Din Ren Lyrics Download Image

मनमोहन कान्हा विनती करू दिन रैन मनमोहन कान्हा बिनती करू दिन रैन राह तके मेरे नैन राह तके मेरे नैन अब तो राह दरस दे दो कुंजबिहारी मनवा है बेचेन मन मोहन कान्हा विनती करू दिन रैन नेह की डोरी तुम संग जोड़ी हम से तो नाही जाए ये तोडी हे मुरलीधर कृष्ण मुरारी हे […]

Contributor:

He Ri Me To Prem Diwani Mero Darad Na Jane Koi

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
He Ri Me To Prem Diwani Mero Darad Na Jane Koi Download Image

हे री मैं तो प्रेम-दिवानी मेरो दरद न जाणै कोय हे री मैं तो प्रेम-दिवानी मेरो दरद न जाणै कोय। दरद की मारी बन बन डोलूं बैद मिल्यो नही कोई॥ ना मैं जानू आरती वन्दन, ना पूजा की रीत। लिए री मैंने दो नैनो के दीपक लिए संजोये॥ घायल की गति घायल जाणै, जो कोई […]

Contributor:

Jo Tum Todo Piya Me Nahi Todu Re Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
Jo Tum Todo Piya Me Nahi Todu Re Lyrics Download Image

जो तुम तोड़ो पिया, मैं नाही तोडू रे, जो तुम तोड़ो पिया, मैं नाही तोडू रे। तोरी प्रीत तोड़ी कृष्णा, कौन संग जोडू॥ तुम भये तरुवर, मैं भयी पंखिया। तुम भये सरोवर, मैं भयी मछिया॥ तुम भये गिरिवर, मैं भयी चारा। तुम भये चंदा मैं भयी चकोरा॥ तुम भये मोती प्रभु जी, हम भये धागा। […]

Contributor:

Saiya Me Giridhar Ke Rang Rati Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 5
Saiya Me Giridhar Ke Rang Rati Lyrics Download Image

सैया में गिरिधर के रंग राती सैया में गिरिधर के रंग राती, सैया में गिरिधर के रंग राती पहर सखी मैं, झिरमिट रमवा जाती झिरमिट में मोहि मोहन मिलिग्यो, आनँद मंगल गाती कोई के पिया परदेस बसत हैं, लिख-लिख भेजें पाती म्हारे पिया म्हारे हिय में बसत हैं, ना कहुँ आती जाती प्रेम भट्ठी को […]

Contributor:

Dur Nagari Badi Dur Nagari Kaise Aau Me Kanhaiya Teri Gokul Nagari Lyrics

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
Dur Nagari Badi Dur Nagari Kaise Aau Me Kanhaiya Teri Gokul Nagari Lyrics Download Image

दूर नगरी, बड़ी दूर नगरी कैसे आऊं मैं कन्हैया… दूर नगरी, बड़ी दूर नगरी कैसे आऊं मैं कन्हैया, तेरी गोकुल नगरी कैसे आऊं मैं कन्हाई, तेरी गोकुल नगरी बड़ी दूर नगरी कान्हा दूर नगरी, बड़ी दूर नगरी कान्हा दूर नगरी, बड़ी दूर नगरी रात में आऊं तो कान्हा, डर मोहे लागे दिन में आऊं तो, […]

Contributor:

Toso Lagyo Neh Re Pyare Naga Nandkumar

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
Toso Lagyo Neh Re  Pyare Naga Nandkumar Download Image

तोसों लाग्यो नेह रे प्यारे नागर नंदकुमार तोसों लाग्यो नेह रे प्यारे नागर नंदकुमार। मुरली तेरी मन हरह्ह्यौ बिसरह्ह्यौ घर ब्यौहार।। जबतैं श्रवननि धुनि परी घर अंगणा न सुहाय। पारधि ज्यूं चूकै नहीं म्रिगी बेधि द आय।। पानी पीर न जान ज्यों मीन तडफ मरि जाय। रसिक मधुप के मरम को नहिं समुझत कमल सुभाइ॥ […]

Contributor:

Payoji Maine Ram Ratan Dhan Payo

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10
Payoji Maine Ram Ratan Dhan Payo Download Image

पायो जी म्हे तो रामरतन धन पायो। बस्तु अमोलक दी म्हारे सतगुरु, किरपा को अपणायो। जनम जनम की पूँजी पाई, जग में सभी खोवायो। खरचै नहिं कोई चोर न लेवै, दिन-दिन बढत सवायो। सत की नाव खेवहिया सतगुरु, भवसागर तर आयो। मीरा के प्रभु गिरधरनागर, हरख-हरख जस पायो॥ This picture was submitted by Smita Haldankar.

Contributor: