Maa Kalratri Ji Ki Aarti


माँ दुर्गा की सातवीं शक्ति कालरात्रि के
नाम से जनि जाती है !

माँ कालरात्रि अपने भक्तों को सदैव
शुभ फल प्रदान करने वाली
होती हैं इस कारण इन्हें शुभंकरी भी कहा
जाता है. दानव दैत्य, राक्षस, भूत, प्रेत आदि
इनके स्मरण मात्र से ही भयभीत होकर भाग
जाते है ! इनकी कृपा से सर्वथा भय मुक्त हो
जाता है ! भगवती देवी माँ कालरात्रि के
श्री चरणों में सत सत नमन !

कालरात्रि माता की आरती

कालरात्रि जय जय महाकाली
काल के मुह से बचाने वाली

दुष्ट संगारण नाम तुम्हारा
महा चंडी तेरा अवतारा

पृथ्वी और आकाश पे सारा
महाकाली है तेरा पसारा

खंडा खप्पर रखने वाली
दुष्टों का लहू चखने वाली

कलकता स्थान तुम्हारा
सब जगह देखू तेरा नजारा

सभी देवता सब नर नारी
गावे स्तुति सभी तुम्हारी

रक्तदन्ता और अन्न पूर्णा
कृपा करे तो कोई भी दुःख ना

ना कोई चिंता रहे ना बिमारी
ना कोई गम ना संकट भारी

उस पर कभी कष्ट ना आवे
महाकाली माँ जिसे बचावे

तू भी ‘चमन’ प्रेम से कह
कालरात्रि माँ तेरी जय

This picture was submitted by Smita Haldankar.

See More here: Aarti

Tag:

More Pictures

Leave a comment