Search

Editor’s Page Pictures, Graphics & Messages For Facebook, Whatsapp, Pinterest, Instagram

Sub Categories :

Savitribai Phule Jayanti Vinamra Abhivadan

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 12

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums

Contributor:

Happy Ganesh Chaturthi To All Of You

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 49

Happy Ganesh Chaturthi
I WISH HAPPY GANESH CHATURTHI TO ALL THE VISITORS AT WEBSITE
Year – 2018

May Ganpati Bappa destroy all your worries,sorrows and tensions
and fill your life with love and happiness.
Wishing you a very happy and wonderful Ganesh Chaturthi.
Have lots of fun.

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums

Contributor:

Sawarna Hai To Kisi Ki Najaro Me Sawariye

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 25


सँवरना है तो किसी की
नजरो में सँवरिए…
आईने से खुद का मिज़ाज
नहीं पूछा करते!!!

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums

Contributor:

Atal Bihari Vajpayee Motivational Quote And Poem

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 25


पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भले ही इस दुनिया को अलव‍िदा कह गए हों लेकिन उनकी लिखी हुई यह कविता हमारे बीच जिंदा हैं।
अटलजी ने एक से बढ़कर एक कविताएं लिखीं है. लोग उनकी कविताओं को खूब पसंद करते हैं. उनकी कविताएं लोगों को जीने का तरीका सिखाती हैं. इस कव‍िता से मिटता है न‍िराशा का भाव, सफलता की सीढ़ियां चढ़ना हो जाएगा आसान…

क़दम मिला कर चलना होगा

बाधाएं आती हैं आएं
घिरें प्रलय की घोर घटाएं,
पावों के नीचे अंगारे,
सिर पर बरसें यदि ज्वालाएं,
निज हाथों में हंसते-हंसते,
आग लगाकर जलना होगा।
कदम मिलाकर चलना होगा।

हास्य-रूदन में, तूफानों में,
अगर असंख्यक बलिदानों में,
उद्यानों में, वीरानों में,
अपमानों में, सम्मानों में,
उन्नत मस्तक, उभरा सीना,
पीड़ाओं में पलना होगा।
कदम मिलाकर चलना होगा।

उजियारे में, अंधकार में,
कल कहार में, बीच धार में,
घोर घृणा में, पूत प्यार में,
क्षणिक जीत में, दीर्घ हार में,
जीवन के शत-शत आकर्षक,
अरमानों को ढलना होगा।
कदम मिलाकर चलना होगा।

सम्मुख फैला अगर ध्येय पथ,
प्रगति चिरंतन कैसा इति अब,
सुस्मित हर्षित कैसा श्रम श्लथ,
असफल, सफल समान मनोरथ,
सब कुछ देकर कुछ न मांगते,
पावस बनकर ढलना होगा।
कदम मिलाकर चलना होगा।

कुछ कांटों से सज्जित जीवन,
प्रखर प्यार से वंचित यौवन,
नीरवता से मुखरित मधुबन,
परहित अर्पित अपना तन-मन,
जीवन को शत-शत आहुति में,
जलना होगा, गलना होगा।
क़दम मिलाकर चलना होगा।

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums

Contributor:

Homage To Lokmanya Bal Gangadhar Tilak

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars 10


‘स्वराज हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है’ जैसा कालजयी नारा देने वाला भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दैदीप्यमान नक्षत्र लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने एक अगस्त 1920 को अपनी आंखें मूंद ली थी।
आज उनके 98 वी पुण्यतिथि  पे उन्हे याद करते हुए भावपूर्ण श्रद्धांजली ओर  शतःश नमन।
पुण्यतिथि विशेष:
बापू से पहले आजादी के आंदोलन की नींव रखने वाले ‘तिलक’
देश के स्वतंत्रता आंदोलन के जनक कहे जाने वाले।
गणेश उत्सव को बनाया अंग्रेजों के खिलाफ हथियार।
देश में सबसे पहले की स्वराज की मांग।
महात्मा गांधी के हाथों में सौंपी अपनी विरासत।

और संयोग देखिए जिस दिन यानी एक अगस्त 1920 को असहयोग आंदोलन की शुरूआत हुई उसी दिन लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक का स्वर्गवास हो गया. ऐसा लगता है जैसे तिलक बस उस दिन के इंतजार में थे जब वह किसी काबिल देशभक्त के हाथों में अपनी विरासत सौंप सकें।

This picture was submitted by Smita Haldankar.

HTML Embed Code
BB Code for forums

Contributor: